जयपुर ग्रेटर की निलंबित महापौर सौम्या का पति राजाराम और बीवीजी कंपनी प्रतिनिधी ओमकार गिरफ्तार

    0

    जयपुर। नगर निगम ग्रेटर की निलंबित महापौर सौम्या गुर्जर के पति राजाराम गुर्जर और बीवीजी कंपनी के प्रतिनिधी ओमकार सप्रे को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरों (एसीबी) ने आज दोपहर गिरफ्तार किया है। एसीबी टीम ने 276 करोड़ रुपए के भुगतान के बदले 20 करोड़ रुपए का कमीशन मांगने के कथित वायरल वीडियो के बारे में पूछताछ के लिए दोनों को आज एसीबी मुख्यालय बुलाया था निलंबित महापौर सौम्या गुर्जर के पति राजाराम गुर्जर के गत 10 जून को सोशल मीडिया पर कथित तीन वीडियो और पांच ऑडियो क्लिप वायरल हुई थी। इस वीडियो में ऑडियो में सोमिया के पति राजा राम गुर्जर निगम क्षेत्र का कचरा उठाने का ठेका लेने वाली कंपनी बीवीजी के प्रतिनिधी संदीप चौधरी व ओमकार सप्रे से 276 करोड रुपए के बकाया बिलों के भुगतान के बदले 10 प्रतिशत कमीशन 20 करोड़ रुपए को लेकर बातचीत कर रहे हैं इसके बाद एसीबी के डीजी बीएल सोनी के निर्देश पर एसीबी ने प्रारंभिक जांच के लिए रिपोर्ट दर्ज की थी। वायरल वीडियो की पड़ताल एडिशनल एसपी बजरंग सिंह को सौंपी गई। वायरल हुए विडियो व ओडियो क्लिप को राज्य विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) में विशेषज्ञ की राय के लिए भेजी गई। कुछ आयाम की जांच की सुविधा उपलब्ध नहीं होने पर अन्य राज्य की एक प्रतिष्ठित एफएसएल को क्लिप्स भेजी गई दोनों एफएसएल से प्राप्त रिपोर्ट की जांच व विश्लेषण करने पर रिश्वत की भारी रकम सेवा प्रदाता को ऑफर करने, नगर निगम की तत्कालीन मेयर के पति की ओर से धमकाने के अंदाज में रिश्वत मांगने व रिश्वत ऑफर को स्वीकार करने और इन सब में एक अन्य व्यक्ति की सहयोग होना प्रथमदृष्टया पाया गया। एसीबी ने जयपुर नगर निगम ग्रेटर के तत्कालीन मेयर के पति राजाराम गुर्जर, बीवीजी कंपनी के प्रतिनिधी संदीप चौधरी व ओमकार सप्रे व वहां उपस्थित निम्बाराम व अन्य के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया। मंगलवार को पूछताछ के लिए एसीबी मुख्यालय बुलाए राजाराम गुर्जर व ओमकार सप्रे को रिश्वत मांगने व ऑफर करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)