नहीं रहे फ्लाइंग सिख

    0

    जिंदगी की रेस में कोविड से हारे फ्लाइंग उड़न सिख के नाम से मशहूर पद्मश्री‍ मिल्‍खा का शुक्रवार देर रात निधन हो गया. उन्‍होंने कल रात 11 : 24 बजे अंतिम सांस ली. मिल्खा सिंह कोरोना वायरस से तो उबर चुके थे लेकिन पोस्ट कोविड साइडइफेक्ट्स से वह नहीं उबर सके. पीजीआइ के प्रवक्ता प्रो. अशोक कुमार ने बताया कि डॉक्टरों ने उन्हें बचाने की तमाम कोशिशें की वह शुरुआत में रिकवर भी कर रहे थे, लेकिन वीरवार रात को मिल्खा सिंह का आक्सीजन स्तर गिर गया और उन्हें बुखार भी आ गया था. उन्हें सांस लेने में लगातार दिक्कत हो रही थी. मिल्खा सिंह के इलाज में लगी सीनियर डॉक्टरों की टीम के साथ उनकी बेटी मोना भी शामिल थीं. परिवार ने उन्हें वेंटिलेटर लगाने के लिए मनाकर दिया था, परिवार का मानना था कि वह काफी कमजोर हो चुके हैं और इससे उनकी तकलीफ और बढ़ेगी. बता दें बुधवार को उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगटिव आ गई थी, जिसके बाद उन्हें कोविड अस्पताल के कार्डियक आइसीयू में शिफ्ट कर कर दिया था. वहीं उनका इलाज चल रहा था. वह तेजी से रिकवर कर रहे थे, लेकिन उम्र और शरीरिक कमजोरी की वजह से वह जिंदगी की जंग हार गए. उनके निधन से पूरे खेल जगत में शोक लहर है गौरतलब है कि मिल्खा सिंह की 17 मई 2021 को कोरोना रिपोर्ट पॉजटिव आई थी. तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां कोरोना की रिपोर्ट नेगटिव आने के बाद 31 मई को उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी. इसके बाद वह सेक्टर -8 स्थित अपने घर में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आराम कर रहे थे. तीन जून को अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और आक्सीजन लेवल गिरने के बाद उन्हें पीजीआइ में भर्ती करवाया गया था. इससे पहले 13 जून 2021 को उनकी पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह का कोरोना महामारी से निधन हो गया था.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)