माणकचौक और शास्त्रीनगर थाना पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए मोबाइल, चैन स्नैचिंग और मोटर साइकिल चोरी करने वाले मेवाती गिरोह का पर्दाफाश किया

    0

    जयपुर,,डीएसटी उत्तर, माणकचौक और शास्त्रीनगर थाना पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए मोबाइल, चैन स्नैचिंग और मोटर साइकिल चोरी करने वाले मेवाती गिरोह का पर्दाफाश किया हैं। पुलिस ने गिरोह के सात बदमाशों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से सात दोपहिया वाहन, 21 मोबाइल और सोने की चेन और एक लैपटॉप बरामद किया हैं। पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने पांच सौ से अधिक वारदात करना कबूल किया हैं।
    पुलिस उपायुक्त (उत्तर) परिस देशमुख ने बताया कि राजधानी जयपुर शहर में बड़े पैमाने पर मोबाइल और चैन स्नैचिंग और वाहन चोरी की वारदातें हो रही थी। इसी वजह से इस तरह की वारदातों पर लगाम लगाने और आरोपियों तक पहुंचने के लिए अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त जयपुर उत्तर द्वितीय धर्मेंद सागर के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ युवा स्मैक का नशा करने के लिए मोटरसाइकिल चुराते हैं। जिसका उपयोग मोबाइल और चैन स्नैचिंग में किया जाता है। इस सहायक पुलिस आयुक्त शास्त्रीनगर अतुल साहू के नेतृत्व में मोटरसाइकिल चोरी के मामले में नाई की थड़ी आमेर निवासी सोहिल उर्फ भल्ला (21) को बापर्दा, भट्टा बस्ती निवासी शाहरुख खान (22) और इस्माइल (25) को गिरफ्तार किया गया। इनसे पूछताछ के आधार पर भट्टा बस्ती निवासी वसीम उर्फ सुस्सा (25) , भरतपुर निवासी नदीम उर्फ कल्लू (30) को गिरफ्तार किया। जिनके पास से चोरी की मोटरसाइकिल, सोने की चैन, और छीने गए मोबाइल जब्त किए गए। जिसके बाद निशानदेही और पूछताछ के आधार पर पुलिस ने भरतपुर निवासी कयूम खान (30) और ईरशाद खान (40) को गिरफ्तार किया गया हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी शाहरूख खान के खिलाफ दो प्रकरण थाना भट्टा बस्ती और एक प्रकरण थाना बनीपार्क में दर्ज हैं।इस तरह करते थे वारदात
    अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त धर्मेंद्र सागर ने बताया कि स्मैक का नशा करने के आदि आरोपी पहले मोटरसाइकिल चोरी करते थे। उसी से मोबाइल और चैन स्नैचिंग की वारदात को अंजाम देते थे। चोरी के सामने को बेचने के लिए मेवात क्षेत्र के कयूम और इरशाद को देते थे। दोनों मोबाइल फोन के हैकर है। जो हर तरह के मोबाइल लॉक तो देते हैं। इन मोबाइल का उपयोग ठगी की वारदातों में भी करते थे और उसके बाद उसके पार्टस को मेवात क्षेत्र में ही बेचा जाता था।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)