15 लाख रुपए के पन्ने लूट के मामले में पर्दाफाश करते पीड़ित को ही गिरफ्तार किया हैं। चाचा का बकाया रुपए देने से बचने के लिए परिवादी ने ही लूट की झूठी कहानी रची थी।

    0

    जयपुर,,गलता गेट थाना पुलिस ने 15 लाख रुपए के पन्ने लूट के मामले में पर्दाफाश करते पीड़ित को ही गिरफ्तार किया हैं। चाचा का बकाया रुपए देने से बचने के लिए परिवादी ने ही लूट की झूठी कहानी रची थी।एडिशनल डीसीपी सुमित गुप्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी शिवाजी चौक ब्रह्मपुरी गलता गेट निवासी राकेश तिवारी (28) पुत्र रमेश है। पुलिस ने बताया कि एक जुलाई को भीड़भाड़ वाले इलाके में घर से दुकान लेकर जा रहे एक बैग में से 15 लाख रुपए के पन्ने के लूट होने की सूचना मिली थी। इस संबंध में राकेश तिवारी की तरफ से थाने में लूट का मामला दर्ज करवाया गया था। जिसके बाद थानाप्रभारी सतीश चंद्र के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था। मामले में कॉल डिटेल एवं घटना से संबंधित लोगों से पूछताछ की गई तो कुछ संदेह हुआ. जिसके आधार पर सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। परिवादी के बैंक खाते की जांच की गई तो किसी भी तरह का कोई बड़ा ट्रांजैक्शन होना सामने नहीं आया। पुलिस ने परिवादी रितेश तिवारी से सख्ती से पूछताछ की तो सामने आया कि रितेश तिवारी ने अपने चाचा से 1 लाख रुपए उधार लिए थे। रितेश के चाचा उस पर रुपए लौटाने के लिए दबाव बना रहे थे। जिसके चलते उसने अपने मालिक की ओर से दिए नगीनों की लूट होने की झूठी कहानी रची और नगीनों को अपने मित्र मनीष को दे दिए। पुलिस ने मनीष के कब्जे से नगीने बरामद कर लिए हैं। फिलहाल पुलिस गिरफ्तार आरोपी रितेश तिवारी से पूछताछ कर रही हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)